stock market bse sensex nse nifty: Stock Market Prediction for september 29- शेयर बाजार में आज क्या होगा

हाइलाइट्स

  • केनरा बैंक, कॉन्फिडेंस पेट्रोलियम, भारत इलेक्ट्रॉनिक्स, Hindustan Oil Exploration, MMTC और BSE के शेयरों में तेजी दिख सकती है।
  • IDBI Bank, फिनोलेक्स इंडस्ट्रीज, Oil India, सेरा सैनिटरीवेयर और PFC के शेयरों में तगड़ी लिवाली हो सकती है।
  • CarTrade Tech, मेटालिस्ट फॉर्जिंग्स, Krsnaa Diagnostics और मरीन इलेक्ट्रिकल्स के शेयरों में तगड़ी बिकवाली का दबाव रह सकता है।

मुंबई
Stock Market News: मंगलवार को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी (NSE Nifty) 106.50 अंक यानी 0.60 प्रतिशत टूटकर 17,748.60 अंक पर बंद हुआ। वहीं बीएसई सेंसेक्स 410.28 अंक यानी 0.68 प्रतिशत की गिरावट के साथ 59,667.60 अंक पर बंद हुआ। विश्लेषकों का संकेत है कि चूंकि गुरुवार को सितंबर डेरिवेटिव सीरीज खत्म होने जा रही है। इसलिए मार्केट में अस्थिरता अपने सर्वोच्च पर रह सकती है। Chartviewindia.in के मजहर मोहम्मद का कहना है कि मंगलवार को 17,576 लेवल्स इंडेक्स के इंट्राडे लो ने लगभग 13 डे सिंपल मूविंग एवरेज के साथ 26 दिन पुराने एसेंडिंग चैनल की लोअर बाउन्ड्री को लगभग टेस्ट कर लिया।

मंगलवार को वैश्विक स्तर पर कमजोर रुख के बीच इन्फोसिस, ICICI बैंक, HDFC और HDFC बैंक में नुकसान से बाजार नीचे आया। सेंसेक्स के शेयरों में करीब 4 प्रतिशत की गिरावट के साथ सर्वाधिक नुकसान में भारती एयरटेल रही।

आज किन शेयरों में तेजी और किनमें गिरावट रहने के संकेत
बुधवार को केनरा बैंक, कॉन्फिडेंस पेट्रोलियम, भारत इलेक्ट्रॉनिक्स, Hindustan Oil Exploration, MMTC और BSE के शेयरों में तेजी दिख सकती है। वहीं दूसरी ओर भारती एयरटेल, HCL Technologies, इन्फोसिस, Firstsource Solutions, माइंडट्री, Mphasis, एस्कॉर्ट्स, इंटरग्लोब एविएशन, एशियन पेंट्स, MSTC, Fineotex Chemical, FIlatex India, और कोफोर्ज के शेयरों में गिरावट रह सकती है।

लिवाली और बिकवाली को लेकर क्या संकेत
आज IDBI Bank, फिनोलेक्स इंडस्ट्रीज, Oil India, सेरा सैनिटरीवेयर और PFC के शेयरों में तगड़ी लिवाली हो सकती है। कारण है कि इनके शेयर पिछले ट्रेड में 52 सप्ताह के उच्च स्तर पर पहुंच गए थे। दूसरी ओर CarTrade Tech, मेटालिस्ट फॉर्जिंग्स, Krsnaa Diagnostics और मरीन इलेक्ट्रिकल्स के शेयरों में तगड़ी बिकवाली का दबाव रह सकता है क्योंकि इन्होंने पिछले ट्रेड में 52 सप्ताह का निचला स्तर छू लिया था।