Six Youths Who Came By Car On Mall Road Ran Away After Beating The Peon – माल रोड पर कार से आए छह युवक, चपरासी को पीटकर भागे

ख़बर सुनें

माल रोड पर कार से आए छह युवक, चपरासी को पीटकर भागे
मेरठ। वेस्ट एंड रोड स्थित एक स्कूल के चपरासी को माल रोड पर कुछ युवकों ने बुरी तरह पीटा और फरार हो गए। पीड़ित ने दो युवकों को नामजद करते हुए छह युवकों के खिलाफ तहरीर दी है।
तोपखाना निवासी सूरज कुमार वेस्ट एंड रोड स्थित गुरु तेग बहादुर स्कूल में चपरासी है। बुधवार देर शाम करीब साढ़े सात बजे वह स्कूल से घर के लिए साइकिल से रवाना हुआ। लालकुर्ती थाना क्षेत्र के माल रोड पर आईआईएमटी कालेज के निकट स्विफ्ट कार उसके पास आकर रुकी। कार से चार-पांच युवक उतरे और हाकी व बेसबाल के बैट से हमला कर दिया। वहां से गुजर रहे लोग दौड़े, तो आरोपी कार में बैठकर फरार हो गए। जाते समय सूरज से 700 रुपये छीन ले गए।
लालकुर्ती पुलिस पहुंची और सूरज को थाने ले गई। सूरज के परिवारजन भी आ गये और हंगामा कर दिया। सूरज ने बताया कि शाम करीब पांच बजे वह प्रधानाचार्य के काम से स्कूल परिसर में ही स्थित बैंक में गया था। वहां संविदा पर काम करने वाले नवीन से उनकी कहासुनी हो गई थी। नवीन ने ही अपने साथियों के साथ हमला कर दिया। नवीन और टीटू निवासी फाजलपुर को उसने पहचान लिया, जबकि चार युवकोें को वह नहीं जानता। इंस्पेक्टर अतर सिंह ने सूरज को डाक्टरी के लिए भेज दिया। एएसपी कैंट सूरज राय का कहना है कि तहरीर के आधार पर कार्रवाई की जा रही है, लूट की बात गलत है।

माल रोड पर कार से आए छह युवक, चपरासी को पीटकर भागे

मेरठ। वेस्ट एंड रोड स्थित एक स्कूल के चपरासी को माल रोड पर कुछ युवकों ने बुरी तरह पीटा और फरार हो गए। पीड़ित ने दो युवकों को नामजद करते हुए छह युवकों के खिलाफ तहरीर दी है।

तोपखाना निवासी सूरज कुमार वेस्ट एंड रोड स्थित गुरु तेग बहादुर स्कूल में चपरासी है। बुधवार देर शाम करीब साढ़े सात बजे वह स्कूल से घर के लिए साइकिल से रवाना हुआ। लालकुर्ती थाना क्षेत्र के माल रोड पर आईआईएमटी कालेज के निकट स्विफ्ट कार उसके पास आकर रुकी। कार से चार-पांच युवक उतरे और हाकी व बेसबाल के बैट से हमला कर दिया। वहां से गुजर रहे लोग दौड़े, तो आरोपी कार में बैठकर फरार हो गए। जाते समय सूरज से 700 रुपये छीन ले गए।

लालकुर्ती पुलिस पहुंची और सूरज को थाने ले गई। सूरज के परिवारजन भी आ गये और हंगामा कर दिया। सूरज ने बताया कि शाम करीब पांच बजे वह प्रधानाचार्य के काम से स्कूल परिसर में ही स्थित बैंक में गया था। वहां संविदा पर काम करने वाले नवीन से उनकी कहासुनी हो गई थी। नवीन ने ही अपने साथियों के साथ हमला कर दिया। नवीन और टीटू निवासी फाजलपुर को उसने पहचान लिया, जबकि चार युवकोें को वह नहीं जानता। इंस्पेक्टर अतर सिंह ने सूरज को डाक्टरी के लिए भेज दिया। एएसपी कैंट सूरज राय का कहना है कि तहरीर के आधार पर कार्रवाई की जा रही है, लूट की बात गलत है।