MP Political News Former minister supporting Scindia ready to become a peon in BJP office

भोपाल. सिंधिया समर्थक (Scindia supporter) पूर्व मंत्री (Former minister) गिर्राज दंडोतिया BJP दफ्तर में चपरासी बनने के लिए भी तैयार हैं. उन्हें यहां झाड़ू-पोंछा करना भी मंजूर है. ये वही गिर्राज दंडोतिया हैं जो सिंधिया के साथ कांग्रेस छोड़ बीजेपी में आए थे और फिर उपचुनाव हार गए थे. इनका कहना है कि वो बीजेपी (BJP) में पद पाने नहीं आए हैं. ये अलग बात है कि उपचुनाव की तारीख का ऐलान होते ही वो पार्टी दफ्तर पहुंचे थे.

सिंधिया समर्थक गिर्राज दंडोतिया 4 सीटों के लिए उप चुनाव की तारीख का ऐलान होने के तुरंत बाद बीजेपी प्रदेश मुख्यालय पहुंचे. निगम मंडलों में लंबे समय से अटकी नियुक्ति के बारे में उन्होंने कहा वो बीजेपी में किसी पद की खातिर नहीं आए हैं बल्कि जनता की सेवा करना उनका मकसद है. दंडोतिया ने यह भी कहा कि अगर मुझे बीजेपी कार्यालय में चपरासी का पद भी दिया जाएगा और झाड़ू लगाने को कहा जाएगा तो मैं वो भी करूँगा. किसे क्या देना है यह हमारा संगठन तय करेगा ?

कौन हैं गिर्राज ?
गिर्राज दंडोतिया ग्वालियर चंबल के सिंधिया समर्थक नेता हैं. सिंधिया के साथ ही वो कांग्रेस से इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल हुए थे. उसके बाद उन्हें बीजेपी सरकार में मंत्री बनाया गया था. बाद में 28 सीटों पर हुए विधानसभा उपचुनाव में दिमनी सीट से चुनाव लड़ा लेकिन हार गए. उनके चुनाव हारने के बाद यह कयास लगाए जा रहे थे कि उपचुनाव में सिंधिया समर्थक जो मंत्री चुनाव हारे हैं उन्हें निगम मंडलों में नियुक्ति दी जा सकती है, लेकिन अब तक निगम मंडलों में इन नेताओं की नियुक्ति नहीं हो सकी है. और अब उप चुनाव की तारीख का ऐलान हो गया है.

ये भी पढ़ें-MP by Election : तारीख के ऐलान के साथ ही BJP ने बुलाई बैठक, VD ने पूछा कहां हैं कमलनाथ ?

क्या बोले सीएम ?
उधर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से जब निगम मंडलों में नियुक्ति में हो रही देरी पर सवाल किया गया तो उनका कहना था नियुक्ति के लिए कोई इंतज़ार नहीं करना पड़ेगा. कई बार समय से चीजें होती हैं और होती रहेंगी. सीएम का इशारा इस ओर माना जा रहा है कि सही समय पर निगम मण्डलों में दावेदारों को जगह दी जा सकती है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.