Most Indian millennials prefer international destinations with fewer COVID cases easy protocols says BOTT Report

नई दिल्ली, पीटीआइ। अधिकांश भारतीय युवा अंतरराष्ट्रीय यात्रा पर जाना चाहते हैं, लेकिन विदेशी स्थलों के चयन की प्रक्रिया के दौरान वे COVID प्रतिबंधों और बेहतर कनेक्टिविटी के बारे में सतर्क हैं। BOTT (Business of Travel Trade) ट्रैवल सेंटीमेंट ट्रैकर के अनुसार, लगभग 73 फीसद युवा ऐसी विदेश यात्राओं को पसंद करेंगे जहां COVID के बहुत कम मामले हों। इन युवाओं में 80 और 90 के दशक में पैदा हुए लोगों को गिना जा रहा है।

यह भी पढ़ें: आपके Aadhaar का कहां-कहां हुआ है इस्तेमाल, घर बैठे ऐसे लगाएं पता

रिपोर्ट में कहा गया है कि लगभग 67 फीसद ने कहा कि वे ऐसी जगहों पर जाना चाहेंगे जहां COVID के मामले कम हों और कोरोना से जुड़े नियम बहुत ज्यादा सख्त न हो। साथ ही छुटियां बीताते समय अनावश्यक समस्या से बचा का सके। BOTT ट्रैवल सेंटीमेंट ट्रैकर की रिपोर्ट अगस्त और सितंबर 2021 के दौरान पांच सप्ताह की अवधि के लिए देश भर में 7,800 से अधिक युवा यात्रियों के साथ किए गए सर्वे पर आधारित है।

यह भी पढ़ें: Mobile App के जरिये लोन लेने से फर्जीवाड़े की आशंका ज्यादा, इन बातों का रखें ख्याल

रिपोर्ट में आगे खुलासा किया गया कि 61 फीसद युवा अंतरराष्ट्रीय यात्रा स्थलों का चयन करते समय बेहतर कनेक्टिविटी की तलाश करेंगे और 27 फीसद शॉर्ट-हॉल डेस्टिनेशन को पसंद करेंगे।

आउटबाउंड टूर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (ओटीओएआई) के अध्यक्ष रियाज मुंशी ने कहा, निष्कर्ष भारतीय युवा यात्रियों के बीच यात्रा की मांग में कमी को दर्शाते हैं। हमें आने वाले मौसम में अंतरराष्ट्रीय छुट्टियों के लिए पूछताछ मिलने लगे हैं, लेकिन यात्री इन विदेशी डेस्टिनेशन के चयन की प्रक्रिया के दौरान कोविड प्रतिबंधों और बेहतर कनेक्टिविटी के बारे में सतर्क हैं।

यह भी पढ़ें: इन बैंकों के ग्राहक बिना कार्ड के भी ATM से निकाल सकते हैं पैसा, जानिए कैसे

रिपोर्ट के अनुसार, 83 फीसद युवा अपनी अगली छुट्टियों के लिए समुद्र तट पर जाना पसंद करेंगे, इसके बाद वेलनेस और स्पा डेस्टिनेशन और होटलों और रिसॉर्ट्स में क्रमशः 65 फीसद और 53 फीसद रुकना चाहते हैं।

Edited By: Nitesh