Higher Education Minister unequivocal reply on the fraud of BEd colleges in cabinet expansion| मंत्रिमंडल विस्तार से बीएड कॉलेजों के फर्जीवाड़े पर उच्च शिक्षा मंत्री के बेबाक जवाब

Jaipur : उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने आज पीटीईटी का परिणाम जारी करते हुए मीडिया से विभिन्न मुद्दों पर खुलकर बात की. चाहे प्रदेश में होने वाले 2 सीटों पर उप चुनाव की हो या फिर राजस्थान की राजनीति में कांग्रेस की एकजुटता और मंत्रिमंडल फेरबदल की या फिर प्रदेश की कई यूनिवर्सिटी में खाली पड़े कुलपति के पदों की, उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने सभी सवालों का जवाब खुलकर दिया

प्रदेश (Rajasthan News) में बीएड कॉलेजों की समय समय शिकायत मिलने के बाद भी उन पर उचित कार्रवाई नहीं होने के सवाल पर उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने कहा कि “एनसीईटीकी ओर से कॉलेजों का मान्यता दी जाती है. साथ ही समय समय पर राज्य सरकार एनओसी की जांच भी करती है. कोई शिकायत मिलती है तो उसकी जांच की जाती है और गंभीर शिकायत पर तुरंत एक्शन भी लिया जाता है. शिक्षा के व्यापक प्रचार प्रसार के लिए नये कॉलेज खुलना अच्छी बात है. साथ ही राज्यों का नियंत्रण इन पर रहता भी है.”

राजस्थान में दो विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव (Rajasthan By Elections) को लेकर उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने कहा कि “दोनों ही सीटों पर कांग्रेस को जीत हासिल करेगी. पिछली तीन सीटों पर जो उप चुनाव हुआ उसमें से दो पर जीत हासिल की. साथ ही जिला परिषद, पंचायत चुनाव में भी कांग्रेस ने जीत हासिल की. कांग्रेस ने पूरी जनता का ध्यान रखा है और कोरोना काल में बहुत अच्छा काम किया है और यही कारण है कि दोनों सीटों पर कांग्रेस की जीत होगी. जो बीजेपी 50 पैसे की महंगाई पर सड़कों पर उतर जाती थी आज वो महंगाई की सारी हदें पार कर रही है.”

यह भी पढ़ें-REET Exam में फर्जीवाड़ा, पत्नी की जगह पति ने दी परीक्षा

कांग्रेस के एकजुट होने के सवाल पर उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने कहा कि “सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस एकजुट है. सभी विधायक और मंत्री मिलकर काम कर रहे हैं. साथ ही पंजाब की तरह राजस्थान में मुख्यमंत्री पद पर किसी भी प्रकार के बदलाव की कोई संभावना नहीं है. प्रदेश के मुख्यमंत्री अच्छा काम कर रहे हैं. अगर मंत्रिमंडल विस्तार, फेरबदल, पुनर्गठन हो ये सभी फैसले आलाकमान और मुखिया का विशेषाधिकार होता है, जो फैसला लिया जाएगा वो मंजूर होगा. कांग्रेस के किसी भी विधायक को सत्ता और पद की लालसा नहीं है.”

प्रदेश की कई यूनिवर्सिटी में अभी कुलपति के पद खाली है. कुलपति के पदों पर पूछे गए सवाल पर उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने कहा कि “कुलपति का पद खाली होने के बाद एक प्रक्रिया के तहत पद भरा जाता है,पहले बॉम की मीटिंग होती है उसके बाद सरकार, राज्यपाल और यूजीसी द्वारा मनोनीत सदस्यों की कमेटी द्वारा नाम तय कर कुलाधिपति को सौंपा जाता है, जिसके बाद मुख्यमंत्री से चर्चा होने के बाद ही नाम पर मुहर लगती है. जल्द ही कुलपति के खाली पदों पर भर दिया जाएगा.”

यूपीएससी के परिणाम पर उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी का कहना है कि “यूपीएस की परिणाम में राजस्थान के विद्यार्थियों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. राजीव गांधी की 75वीं वर्षगांठ पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मेधावी विद्यार्थियों के लिए जो छात्रवृत्ति की घोषणा की है उससे भी कहीं ना कहीं आने वाले समय में और विद्यार्थियों की संख्या बढ़ेगी.”