Culture and business opportunities will be showcased in India Pavilion, Diwali and Dussehra will be celebrated | इंडिया पवेलियन में लगेगी संस्कृति और कारोबारी अवसरों की झांकी, होगा दशहरा-दिवाली का भव्य आयोजन

  • Hindi News
  • Business
  • Culture And Business Opportunities Will Be Showcased In India Pavilion, Diwali And Dussehra Will Be Celebrated

24 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
सांकेतिक तस्वीर। - Dainik Bhaskar

सांकेतिक तस्वीर।

दुबई एक्सपो 2020 एक साल की देरी से आज शुरू हो रहा है। इस ग्लोबल एक्सपो में पहली बार हर देश का अपना अलग पवेलियन है। 31 मार्च तक छह महीने चलने वाले इस एक्सपो के बड़े पवेलियन में एक भारत का भी है। इसका उद्घाटन केंद्रीय उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल आज भारतीय समय के अनुसार शाम 4:30 बजे करेंगे।

भारत से 15 राज्य और 9 केंद्रीय मंत्रालय शामिल होंगे

एक्सपो में भारत से 15 राज्य और 9 केंद्रीय मंत्रालय भाग लेंगे। इंडिया पवेलियन में सबसे पहले गुजरात के उत्पादों, संस्कृति, खान-पान और कारोबारी अवसरों की झांकी लगेगी। उसके बाद यहां कर्नाटक, लद्दाख, तेलंगाना, राजस्थान, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, केरल, जम्मू और कश्मीर, गोवा, आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड, हिमाचल प्रदेश और हरियाणा की प्रदर्शनी लगेगी।

यहां दिवाली और दशहरा का भव्य आयोजन भी होगा

आयुष मंत्रालय, पर्यटन मंत्रालय, उद्योग एवं व्यापार संवर्धन विभाग, पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय, पर्यावरण वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय, अंतरिक्ष विभाग, रिन्यूएबल एनर्जी मिनिस्ट्री, फार्मा डिपार्टमेंट और कपड़ा मंत्रालय भी अपनी प्रदर्शनी लगाएंगे। यहां दिवाली और दशहरा जैसे त्योहारों का भव्य आयोजन भी होगा।

सपोर्ट के लिए सरकार के साथ किया वेदांता ने करार

टाटा ग्रुप, रिलायंस, अडाणी, वेदांता, हिंदुजा ग्रुप, L&T के अलावा UAE के लुलु ग्रुप, एस्टर, मालाबार गोल्ड और इफको जैसे कारोबारी दिग्गज भी इंडिया पवेलियन की शोभा बढ़ाएंगे। गौरतलब है कि भारत के आर्थिक कायाकल्प और इसकी प्रगति की संभावनाओं के बारे में दुनिया को बताने के लिए डायवर्सिफाइड नेचुरल रिसोर्स ग्रुप वेदांता ने सरकार के साथ करार किया है।

अगले 25 साल तक ग्लोबल ग्रोथ का इंजन रहेगा भारत

इसको लेकर वेदांता के संस्थापक और चेयरमैन अनिल अग्रवाल ने एक बड़ी बात कही है। उन्होंने कहा है कि भारत अगले 25 साल तक वैश्विक अर्थव्यवस्था को खींचकर आगे ले जाने वाला अग्रणी देश होगा। ठीक उसी तरह, जिस तरह पूर्व के दशकों में चीन ग्लोबल इकोनॉमी का ग्रोथ इंजन रहा था।

HUL, पेप्सिको, HSBC, ITC, फेसबुक जैसे दिग्गज होंगी

एक्सपो में HUL, पेप्सिको, HSBC, ITC, फेसबुक, ईजमायट्रिप, ओयो, स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक, ट्राइडेंट ग्रुप, बैद्यनाथ, अपोलो हॉस्पिटल, सन इंटरनेशनल, MIKO, दावत राइस, बैंक ऑफ बड़ौदा, पतंजलि, डाबर, BLS इंटरनेशनल, पेट्रोकेम, निकाई, एल दोबोई, शाइकोकैन, NPCI, जागरण लेक सिटी यूनिवर्सिटी, एयर इंडिया और ICICI बैंक भी शामिल होने वाले हैं।

टोक्यो ओलिंपिक के बाद दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा इवेंट

कोविड के बाद हो रहा यह ग्लोबल एक्सपो टोक्यो ओलिंपिक के बाद दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा इवेंट है। छह महीने चलने वाले इस एक्सपो में भारत सहित दुनिया के 192 देश शामिल हो रहे हैं। इसमें छह महीने के दौरान रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के बीच अनगिनत MOU पर दस्तखत होने की उम्मीद है।

खबरें और भी हैं…