Coronavirus India LIVE Updates In Hindi Coronavirus India Report Covid 19 Updates Cases Of 30 September 2021 Thursday – Coronavirus India Live Updates: लद्दाख में कोविड-19 के सात नए मामले

Coronavirus India Live Updates: लद्दाख में कोविड-19 के सात नए मामले

Covid-19 Cases in India पिछले 24 घंटे में नए COVID-19 केसों में 24.7 प्रतिशत बढ़ोतरी दर्ज की गई….

भारत में गुरुवार यानी 30 सितंबर, 2021 को पिछले 24 घंटे में नए COVID-19 (Coronavirus Cases Today) केसों में 24.7 प्रतिशत बढ़ोतरी दर्ज की गई है. आज सुबह के स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, आज 23,000 से ज्यादा मामले दर्ज किए गए हैं.पिछले 24 घंटे में 311 लोगों की मौत हुई. पिछले 24 घंटे में  65,34,306  वैक्सीनेशन हुआ. अब तक कुल 88,34,70,578 टीकाकरण हो चुका है. दिल्ली (Delhi) में कोरोना (Corona) के मामलों में घटोतरी जारी है. संक्रमण के मामलों के कम होने के साथ ही लोग अब पुरानी दिनचर्या में लगभग लौट चुके हैं.  बुधवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक राष्ट्रीय राजधानी में बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना संक्रमण के चलते एक भी मौत नहीं हुई है. दिल्ली में कोरोना की चपेट में आकर अब तक जान गंवाने वालों का कुल आंकड़ा 25,087 है.

वहीं महाराष्ट्र (Maharashtra) में बुधवार को कोरोनावायरस संक्रमण (Coronavirus Infection) के 3,187 नए मामले सामने आए तथा महामारी से 49 और रोगियों की मौत हो गई. इसके साथ ही संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 65,47,793 हो गए और मृतकों की संख्या 1,39,011 पर पहुंच गई. स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. अधिकारी ने कहा कि पिछले एक दिन में 3,253 लोग ठीक हो गए. राज्य में कोविड-19 (COVID-19) से पीड़ित होने के बाद अब तक 63,68,530 लोग ठीक हो चुके हैं. महाराष्ट्र में अभी 36,675 रोगी उपचाराधीन हैं.

Here are the Updates on India Coronavirus Cases in Hindi :

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

लद्दाख में कोविड-19 के सात नए मामले
न्यूज एजेंसी भाषा के अनुसार, लद्दाख में एक दिन में कोविड-19 के सात नए मामले सामने आने के बाद केन्द्र शासित प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या बढ़कर 20,795 हो गई, जिनमें से 73 लोगों का अभी इलाज चल रहा है. इस दौरान 28 लोग ठीक भी हुए.

सितंबर में बने कोविड वैक्सीनेशन का ये कीर्तिमान

 भारत में कोरोना के मामलों में उतार-चढ़ाव के बीच कोविड वैक्सीनेशन का नया रिकॉर्ड सितंबर माह में बना है. देश में पिछले एक माह में करीब 23 करोड़ टीके लगे हैं, जो किसी भी महीने में सबसे बड़ा कीर्तिमान है.गुरुवार को देश में कुल वैक्सीनेशन  का आंकड़ा 88.34 करोड़ तक पहुंच गया. पिछले 24 घंटे में 65.34 लाख कोरोना टीके लगाए गए. भारत में 30 सितंबर को कोरोना के कुल कोरोना वैक्सीनेशन का आंकड़ा 88,34,70,578 तक पहुंच गया है. जबकि 1 सितंबर 2021 को वैक्सीनेशन का आंकड़ा 65.41 करोड़ के करीब था. इस हिसाब से 22.93 करोड़ टीके पिछले 30 दिनों में लगे हैं.  

अब तक कुल 88.34 करोड़ वैक्सीन दी जा चुकी हैं

 देश में अबतक कुल 56.89 करोड़ कोरोना टेस्ट किए जा चुके हैं. अब तक कुल 88.34 करोड़ वैक्सीन डोज दी जा चुकी हैं.

वीकली पॉजिटिविटी रेट 1.74% पर

वीकली पॉजिटिविटी रेट 1.74% पर है. पिछले 97 दिनों से ये 3 फीसदी के नीचे बना हुआ है. डेली पॉजिटिविटी रेट 1.56% है. ये दर पिछले 31 दिनों से 3 फीसदी के नीचे है.

एक्टिव केस की दर 0.82 फीसदी
एक्टिव केस संक्रमण के कुल मामलों के 1 फीसदी से भी कम हैं. एक्टिव केस की दर अभी 0.82 फीसदी है, जोकि मार्च 2020 के स्तर से नीचे है. कुल एक्टिव केस अभी 2,77,020 पर हैं, जोकि 195 दिनों में सबसे कम हैं.

देश में 24 घंटे में 311 की मौत
आज के आंकड़ों के बाद अब देश में कोरोना संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 33,739,980 हो चुकी है. पिछले एक दिन में 311 लोगों की मौत हुई है.

देश में पिछले 24 घंटे में 23000 से ज्यादा मामले आए सामने
स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, आज 23,000 से ज्यादा मामले दर्ज किए गए हैं. देश में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 23,529 मामले दर्ज हुए हैं.

पुडुचेरी में कोविड-19 के 93 नए मामले

पुडुचेरी में बुधवार को कोरोना वायरस के 93 नए मामले आने से संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 1,26,308 पर पहुंच गयी. संक्रमण के नए मामलों में से पुडुचेरी में 45, करईकल में 30, यानम में तीन और माहे में 15 मामले आए. पुडुचेरी क्षेत्र में पिछले 24 घंटों में एक और मरीज के जान गंवाने से मृतकों की संख्या 1,840 पर पहुंच गयी है. केंद्र शासित प्रदेश में अभी 828 मरीज कोविड-19 का इलाज करा रहे हैं जिनमें से 118 का अस्पतालों में इलाज चल रहा है जबकि बाकी के 710 मरीज घर पर पृथक वास में हैं.

स्वास्थ्य विभाग के निदेशक जी श्रीरामुलु ने बताया कि विभाग ने अभी तक कोविड-19 के लिए 17.85 लाख नमूनों की जांच की है और उनमें से 15.16 लाख नमूने संक्रमित नहीं पाए गए. उन्होंने बताया कि अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की 9,95,803 खुराक दी गयी है. इनमें से 6,89,612 लोगों को टीके की प्रथम खुराक और 3,06,191 लोगों को दोनों खुराक दी जा चुकी हैं.

तमिलनाडु में कोविड-19 के 1,624 नये मामले सामने आए, 24 मरीजों की मौत

तमिलनाडु में बुधवार को कोविड-19 के 1,624 नये मामले सामने आने के साथ संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 26,62,177 हो गयी. जबकि संक्रमण से 24 और मरीजों की मौत होने से मृतकों की तादाद 35,550 पर पहुंच गयी. राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने एक बुलेटिन जारी कर यह जानकारी दी. बुलेटिन के अनुसार तमिलनाडु में बीते 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के 1,639 मरीज संक्रमण मुक्त भी हुए, जिससे राज्य में इस जानलेवा वायरस को मात देने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 26,09,435 हो गयी. तमिलनाडु में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या 17,192 है.

राज्य में अब तक 4,68,40,515 नमूनों की कोविड-19 जांच की जा चुकी है, जिसमें से 1,51,678 नमूनों की जांच बीते 24 घंटे में हुई. संक्रमण के नये मामलों में राजधानी चेन्नई में सर्वाधिक 189 नये मामले सामने आए. इसके बाद इरोड में 116 और चेंगलपेट में कोरोना वायरस संक्रमण के 115 नये मामले सामने आए हैं. तमिलनाडु के 22 जिलों में बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण से मौत का कोई नया मामला सामने नहीं आया. बुलेटिन में कहा गया कि संक्रमण से जिन लोगों की मौत हुई उन्हें पहले से अन्य बीमारियां भी थी.

गुजरात में कोविड-19 के 20 नये मामले सामने आए

गुजरात में बुधवार को कोविड-19 के 20 नये मामले सामने आने के साथ कुल संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 8,25,916 हो गयी. जबकि संक्रमण से किसी मरीज की मौत नहीं हुई. राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने एक वक्तव्य जारी कर यह जानकारी दी. वक्तव्य के मुताबिक गुजरात में बीते 24 घंटे के दौरान कोविड-19 संक्रमण से 12 मरीज स्वस्थ हुए जिससे राज्य में इस जानलेवा वायरस को मात देने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 8,15,678 हो गयी. गुजरात में फिलहाल उपचाराधीन मरीजों की संख्या 156 है. संक्रमण से बुधवार को किसी मरीज की मौत नहीं होने से मृतकों की तादाद 10,082 पर स्थिर बनी रही. संक्रमण के नये मामलों में सूरत में सर्वाधिक सात नये मामले सामने आए.

एक आधिकारिक विज्ञप्ति के मुताबिक गुजरात में अब तक कोविड-19 रोधी टीके की 6,05,69,233 खुराक दी जा चुकी है, जिसमें से 2,32,476 खुराक बुधवार को दी गयी. केंद्र शासित प्रदेश दादरा और नगर हवेली, दमन और दीव फिलहाल कोरोना मुक्त है और यहां एक भी कोरोना वायरस मरीज नहीं है. अधिकारियों के मुताबिक यहां केंद्र शासित प्रदेश में अब तक 10,642 कोरोना वायरस के मामले सामने आए जिनमें से 10,638 मरीज स्वस्थ हुए. यहां कोरोना वायरस से चार मरीजों की अब तक मौत हुई है.

हरियाणा में कोविड-19 के 16 नये मामले, नहीं हुई किसी मरीज की मौत
हरियाणा में बुधवार को कोविड-19 के 16 नये मामले सामने आने के बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 7,70,863 हो गयी जबकि इस दौरान किसी मरीज की मौत नहीं हुई और मृतकों की तादाद 9,874 पर स्थिर रही. राज्य के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी एक बुलेटिन में यह जानकारी दी गई. संक्रमण के नये मामलों में गुरुग्राम जिले से सर्वाधिक सात नये मरीज मिले हैं. बुलेटिन के मुताबिक हरियाणा में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या 105 हो गयी है. हरियाणा में अब तक कुल 7,60,711 लोग इस जानलेवा वायरस के संक्रमण को मात दे चुके हैं. संक्रमण से ठीक होने की दर 98.68 प्रतिशत हो गयी है.

भारत में अभी तक 88 करोड़ से अधिक कोविड-19 की खुराक लगाई जा चुकी है : स्वास्थ्य मंत्रालय
देश में बुधवार तक कोविड-19 की 88 करोड़ से अधिक खुराक लगाई जा चुकी है. यह बात केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कही. बुधवार शाम सात बजे तक कोविड-19 की कुल 59,48,118 खुराकें लगाई गईं. मंत्रालय ने कहा कि देर रात तक अंतिम रिपोर्ट आने पर रोजाना टीकाकरण के आंकड़ों में बढ़ोतरी हो सकती है. इसने कहा कि कोविड-19 संक्रमण से रक्षा के लिए टीकाकरण अभियान की उच्चतम स्तर पर नियमित समीक्षा एवं निगरानी हो रही है. देश में 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों के लिए टीकाकरण अभियान की शुरुआत एक मई से हुई थी.

दिल्ली में सरकारी कर्मियों, शिक्षकों और बस चालकों को अनिवार्य रूप से टीका लगाया जाए : विशेषज्ञ

दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की बुधवार को यहां आयोजित बैठक में विशेषज्ञों ने कहा कि सरकारी कर्मचारियों, शिक्षकों और बस चालकों को अनिवार्य रूप से कोविड रोधी टीका लगाया जाना चाहिए क्योंकि वे रोजाना कई लोगों के संपर्क में आते हैं. बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि बुज़ुर्गों, दिव्यांगों, अस्वस्थ लोगों और घरेलू सहायकों आदि की सुविधा के लिए एम्बुलेंसों के साथ शिविरों और सचल वैन के माध्यम से “लक्षित” और “तेजी से” टीकाकरण अभियान चलाया जाए.

उपराज्यपाल अनिल बैजल की अध्यक्षता में हुई बैठक में दिल्ली सरकार के वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए. उन्होंने दिल्ली में कोविड की स्थिति, टीकाकरण कार्यक्रम और कक्षा 6 से 8 तक के छात्रों के लिए स्कूलों को फिर से खोलने पर चर्चा की. विशेषज्ञों ने टीकाकरण कार्यक्रम की रणनीति में बदलाव पर जोर दिया ताकि भीड़भाड़ वाली जगहों पर काम करने वाले सभी समूहों को अनिवार्य रूप से इसमें शामिल किया जा सके. आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, उन्होंने कहा कि सरकारी कर्मचारियों, स्कूलों में शिक्षकों और कर्मचारियों तथा ऑटो-टैक्सी व बस चालकों के साथ ही डिलीवरी कर्मियों जैसे सेवा प्रदाताओं को अनिवार्य रूप से वायरस रोधी टीका लगाया जाना चाहिए. दिल्ली समेत देश भर में कोविड-19 के खिलाफ 16 जनवरी को टीकाकरण अभियान की शुरुआत हुई थी.

दिल्ली में कक्षा छह से आठ तक के लिए स्कूल खोलने पर त्योहारों के बाद लेंगे निर्णय: उप राज्यपाल

दिल्ली के उप राज्यपाल अनिल बैजल ने यहां डीडीएमए की बैठक की अध्यक्षता करने के बाद बुधवार को कहा कि कक्षा छह से आठ तक के लिए स्कूल पुनः खोलने पर निर्णय त्योहारी मौसम बीतने के बाद लिया जाएगा. हालांकि, उप राज्यपाल ने इसका उल्लेख नहीं किया कि जूनियर कक्षाओं के लिए स्कूल किस महीने में खोले जाएंगे. बैठक में मौजूद सूत्रों ने बताया कि दीवाली के बाद स्कूल खोले जा सकते हैं. बैजल ने ट्वीट किया, “विशेषज्ञों द्वारा सुझाव दिए जाने के बाद, यह निर्णय लिया गया कि कक्षा छह से आठ तक के माध्यमिक स्कूलों को खोलने पर त्योहारी मौसम बीतने के बाद विचार किया जाएगा.”

दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की बैठक में स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और दिल्ली परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत, नीति आयोग के सदस्य वी के पॉल, एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया, आईसीएमआर के महानिदेशक बलराम भार्गव और अन्य संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे. एक सूत्र ने कहा, “विशेषज्ञों द्वारा वर्तमान स्थिति पर संतोष व्यक्त करने और विभागों तथा संबंधित एजेंसियों द्वारा प्रयास किये जाने के बाद भी, इस पर जोर दिया गया कि कोविड उचित व्यवहार और उसे लागू करने से बचा नहीं जाना चाहिए, विशेष रूप से आगामी त्योहारी मौसम के दौरान.” गौरतलब है कि कई निजी स्कूल जूनियर कक्षाओं के लिए स्कूल खोलने की मांग कर रहे हैं.

कर्नाटक में कोविड-19 के 539 नए मामले, 17 और मरीजों की मौत
कर्नाटक में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 539 नए मामले सामने आने के साथ ही राज्य में अब तक संक्रमित हुए लोगों की कुल संख्या बढ़कर 29,75,067 पहुंच गई. वहीं, इसी अवधि में कोविड-19 के और 17 मरीजों की मौत के बाद कर्नाटक में अब तक 37,780 लोग संक्रमण के कारण जान गंवा चुके हैं.

राज्य में पिछले 24 घंटे में 591 मरीज संक्रमणमुक्त हुए, जिसके साथ ही अब तक 29,24,693 मरीज ठीक हो चुके हैं. कर्नाटक में 12,565 मरीज उपचाराधीन हैं. कर्नाटक में बुधवार को 1,11,538 नमूनों की जांच की गई. इसके साथ ही राज्य में अब तक कुल 4,75,04,490 नमूनों की जांच की जा चुकी है.

नगालैंड में सामने आये कोविड-19 के 24 नए मामले , एक मरीज की मौत

नगालैंड में बुधवार को 24 और लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि होने के साथ महामारी के मामले बढ़कर 31,219 हो गए जबकि एक और मरीज की मौत से इस पूर्वोत्तर राज्य में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 665 हो गई. स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन में यह जानकारी दी गई. दीमापुर जिले में सबसे अधिक 13 नए मामले सामने आए. उसके बाद पेरेन में चार एवं मोकोकचुंग में तीन मामले सामने आए. फेक में संक्रमण से एक मरीज की मृत्यु हुई.

बुलेटिन के अनुसार राज्य में अब 365 उपचाराधीन मरीज हैं, जबकि 28,913 लोग अब तक इस बीमारी से ठीक हो चुके हैं. उनमें पिछले 24 घंटों में ठीक हुए 54 लोग शामिल हैं. अबतक 960 मरीज दूसरे राज्यों में चले गए हैं. मरीजों के ठीक होने की दर 93.52 प्रतिशत है. नगालैंड में अब तक कोविड-19 के लिए 3.71 लाख से अधिक नमूनों की जांच की गई है और 6.86 लाख से अधिक लोगों को टीका लगाया है, जिनमें से 3.53 लाख का पूर्ण टीकाकरण किया जा चुका है.