Cbse 10th class exam question paper will be according to new education policy 2020

नई दिल्ली. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने 10वीं कक्षा के पेपर नई शिक्षा नीति 2020 के अनुसार होंगे. पेपर में क्षमता वाले प्रश्नों की संख्या भी बढ़ा दी गई है. केंद्र सरकार ने नई शिक्षा नीति की घोषणा साल 2020 में की थी. नई शिक्षा नीति में देश में शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए कई अहम बदलाव की सिफारिशें की गई हैं. जिसके बाद अब स्कूल, कॉलेजों और अन्य शिक्षण संस्थानों में नई शिक्षा नीति के प्रावधानों को लागू किया जा रहा है. सीबीएसई ने 10वीं के पेपर में बदलाव भी इसी क्रम में किया है.

इससे पहले सीबीएसई ने नई शिक्षा नीति की सिफारिश लागू करते हुए इंटरमीडिएट में स्ट्रीम की बाध्यता ही खत्म कर दी थी. मतलब 11वीं का छात्र आर्ट और साइंस के विषय एक साथ पढ़ सकता है. जैसे कि आर्ट का कोई छात्र गणित पढ़ना चाहते तो वह पढ़ सकता है. अभी तक हाईस्कूल के बाद छात्रों को एक स्ट्रीम चुननी होती थी.

सीबीएसई ने शुरू किया है रीडिंग मिशन

सीबीएसई ने पहली से आठवीं कक्षा तक के छात्रों की पढ़ाई में रुचि पैदा करने के लिए रीडिंग मिशन की शुरुआत भी की है. यह रीडिंग मिशन दो साल के लिए लागू किया गया है. रिपोर्टों के अनुसार, इसे 25,000 से अधिक सीबीएसई स्कूलों में लागू किया जाएगा. दरअसल, नई शिक्षा नीति के अनुसार रीडिंग मिशन के तहत स्कूलों और शिक्षकों के पास पहली कक्षा से आठवीं के लिए गुणवत्तापूर्ण अंग्रेजी और हिंदी बच्चों की कहानी की किताबों और पूरक संसाधनों का भंडार होगा. इसके अलावा, सीबीएसई वर्तमान में आठवीं-दसवीं कक्षा के छात्रों के लिए आयोजित ‘सीबीएसई रीडिंग चैलेंज का विस्तार करेगा.

ये भी पढ़ें

Sarkari Naukri 2021: इन सरकारी विभागों में शुरू हैं भर्तियां, डेट निकलने से पहले कर लें अप्लाई

CBSE Class 10 Result 2021: सीबीएसई 10वीं कंपार्टमेंटल परीक्षा का परिणाम जारी, डायरेक्‍ट लिंक पर चेक करें

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.