Best Health Insurance Plans for Heart Patients in India 2021 in Hindi: दिल की सेहत के लिए कॉर्डिएक हेल्थ बीमा क्यों है जरूरी

Cardiac health insurance,Star Health Insurance,Care Insurance,aditya birla, Activ Health Platinum Enhanced,Star Cardiac Care Insurance Policy- PlatinuCare Heart


दिल की सेहत के लिए कॉर्डिएक हेल्थ बीमा जरूरी, पूरी जानकारी&nbsp

Health Insurance Plans in India: इंडियन हार्ट एसोसिएशन के अनुसार 50 वर्ष से कम आयु वर्ग के व्यक्तियों में सभी दिल के दौरे के 50% से अधिक की सूचना दी जाती है। जबकि 25% दिल के दौरे 40 वर्ष से कम आयु के लोगों में देखे जाते हैं, जो हृदय स्वास्थ्य बीमा योजनाओं की आवश्यकता को और भी महत्वपूर्ण बना देता है। यह पॉलिसीधारक को बढ़ती चिकित्सा लागतों को बनाए रखने में मदद करता है जो अन्यथा उनकी अधिकांश बचत को एक झटके में खत्म कर सकता है। 

सीवीडी, मृत्यु दर की एक मुख्य वजह

हृदय रोग (सीवीडी) आज भारत में मृत्यु दर की एक मुख्य वजह है। आने वाले कुछ वर्षों में आशंका है कि सीवीडी भारतीय आबादी पर आर्थिक और सामाजिक बोझ की मुख्य वजह बन जाएगा। विभिन्न प्रकार के हृदय संबंधी रोग, स्ट्रोक, और शरीर के अंगों को पोषण देने वाली रक्त वाहिकाओं की बीमारियों का एक संयोजन है। इससे अधिक दिल से संबंधित बीमारियों के इलाज में खर्च अधिक होता है। 

हृदय रोग के इलाज में खर्च ज्यादा

बंद धमनियों की एंजियोप्लास्टी कराने के लिए मेट्रो शहर में आपको 3 लाख रुपये से 5 लाख रुपये के बीच कहीं भी खर्च करना पड़ सकता है। इसी तरह ओपन-हार्ट सर्जरी की लागत 5 लाख रुपये से 8 लाख रुपये है, जबकि वाल्व से संबंधित सर्जरी में 4 लाख रुपये से 7 लाख रुपये के बीच कहीं भी खर्च होता है। हर किसी के पास इतना धन होना हमेशा संभव नहीं होता है कि वह इतनी बड़ी लागत को कवर कर सके और सर्वोत्तम संभव उपचार ले सके।

आपको हृदय स्वास्थ्य बीमा योजनाओं की आवश्यकता क्यों है?

कार्डिएक हेल्थ इन्शुरन्स प्लान तीव्र हृदय रोगों जैसे कि रिफ्रैक्टरी हार्ट फेल्योर, मायोकार्डियल इंफार्क्शन या हार्ट अटैक,कार्डियोमायोपैथी आदि को कवर करता है और बिना किसी वित्तीय तनाव के इन चिकित्सा आपात स्थितियों को संभालने के लिए हृदय रोगियों के लिए स्वास्थ्य बीमा खरीदना आवश्यक है।

इसके अलावा, भारत में हृदय रोग की बढ़ती घटनाओं को देखते हुए, कई बीमाकर्ता भी साथ आए हैं। ये प्लान आपको हृदय संबंधी के निदान के मामले में वित्तीय सुरक्षा प्रदान करती हैं। निश्चित लाभ योजना की तरह सीवीडी के उपचार में बीमित व्यक्ति को इन योजनाओं के तहत पूरी बीमा राशि का भुगतान किया जाता है। भुगतान राशि का उपयोग बीमारी के इलाज के लिए किया जा सकता है और यहां तक ​​कि आय के नुकसान की भरपाई के लिए भी किया जा सकता है। 

यहां कुछ बेहतरीन कार्डिएक हेल्थ इंश्योरेंस प्लान के बारे में जानकारी है, जिन्हें आप भारत में खरीद सकते है। यहां पर हम 35 साल के शख्स को केंद्र में रखकर सम इंस्योर्ड 10 लाख रुपए के लिए अलग अलग बीमा योजनाओं के बारे में जानकारी दे रहे हैं। 

बीमाकर्ता योजना का नाम          प्लान का नाम                                          प्रीमियम

स्टार हेल्थ इंश्योरेंस   स्टार    कार्डिएक केयर इंश्योरेंसपॉलिसी- प्लेटिनम        36,621 

केयर इंश्योरेंस                            केयर हार्ट                                               14,195

आदित्य बिड़ला               एक्टिव हेल्थ प्लेटिनम एन्हांस्ड                            9,566

(स्रोत: Policybazar.com)

कार्डिएक हेल्थ इंश्योरेंस प्लान की मुख्य खासियत

अस्पताल में भर्ती होने का कवर– पॉलिसी हृदय संबंधी उपचार लागत और अस्पताल में भर्ती होने के खर्च सहित अन्य संबंधित खर्चों के लिए मुआवजे की पेशकश करती है
 वित्तीय कवर- पॉलिसी मन की शांति प्रदान करती है यदि दिल से संबंधित समस्या जैसे दिल का दौरा पड़ता है, तो बीमाधारक वित्त की चिंता किए बिना कार्डिएक बीमा के तहत दावा दायर कर सकता है
बीमित राशि का एकमुश्त भुगतान- यदि बीमित व्यक्ति को हृदय संबंधी किसी बीमारी का पता चलता है तो बीमाकर्ता एकमुश्त राशि का भुगतान करता है।
आय का नुकसान- हृदय देखभाल स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत बीमाकर्ता आपकी आय के नुकसान की भरपाई भी करता है क्योंकि पॉलिसी दावा राशि का उपयोग अन्य विविध खर्चों को पूरा करने के लिए भी किया जा सकता है।
विदेश में उपचार- पॉलिसी कवरेज के आधार पर, हृदय बीमा पॉलिसी विदेशों में किए गए उपचार को भी कवर कर सकती है
प्रीमियम पर कर लाभ- आयकर अधिनियम, 1961 के तहत, आप हृदय स्वास्थ्य योजनाओं के लिए भुगतान किए गए स्वास्थ्य बीमा प्रीमियम पर 25,000 रुपये तक कर लाभ प्राप्त करने के पात्र हैं।

इसलिए कॉर्डिएक हेल्थ इंश्योरेंस जरूरी

व्यापक स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी के माध्यम से खुद को आर्थिक रूप से सुरक्षित करके इन लागतों को आसानी से कवर करना संभव है। आपकी स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी आपको सभी संभावित स्वास्थ्य देखभाल खर्चों के खिलाफ कवर करेगी। सीवीडी और हर दूसरी बीमारी का इलाज भी। एक स्वास्थ्य बीमा योजना आपको अस्पताल में भर्ती होने से पहले और बाद के खर्चों के साथ-साथ अस्पताल में भर्ती होने के खर्चों के लिए भी कवर करती है।

संबंधित खबरें