मिजोरम में सामने आए कोविड-19 के 1,741 नए मामले

मिजोरम में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस के 1,741 नए मामले आने से उपचाराधीन मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 16,841 हो गयी है। अधिकारियों ने बताया कि संक्रमण के नए मरीजों में 304 बच्चे हैं। पिछले 24 घंटे में राज्य में एक और मरीज की मौत होने से मृतकों की संख्या 307 हो गयी है। मिजोरम महामारी की दूसरी लहर के दौरान सबसे अधिक प्रभावित राज्यों में से एक था। राज्य में अभी तक कोविड-19 के 93,660 मामले आ चुके हैं।

नेशनल डेस्क: मिजोरम में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस के 1,741 नए मामले आने से उपचाराधीन मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 16,841 हो गई है। अधिकारियों ने बताया कि संक्रमण के नए मरीजों में 304 बच्चे हैं। पिछले 24 घंटे में राज्य में एक और मरीज की मौत होने से मृतकों की संख्या 307 हो गई है। मिजोरम महामारी की दूसरी लहर के दौरान सबसे अधिक प्रभावित राज्यों में से एक था। राज्य में अभी तक कोविड-19 के 93,660 मामले आ चुके हैं। अधिकारियों ने बताया कि नए मामले आने से संक्रमण की दैनिक दर 18.44 प्रतिशत हो गई है। आइजोल में सबसे अधिक 915 मामले आए। इसके बाद चम्फाई जिले में 388 और लुंगलेई जिले में 117 मामले आए।

राज्य में अभी तक 76,512 मरीज महामारी से उबर चुके हैं। आइजोल में सबसे अधिक 11,649 मरीज जबकि सिआहा में 1078 और लुंगलेई में 925 कोविड-19 के उपचाराधीन हैं। मामले बढ़ने के कारण सैतुल शहर में लॉकडाउन लगा दिया गया है। जिला मजिस्ट्रेट द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार लॉकडाउन बुधवार शाम को लगाया गया और यह छह अक्टूबर को शाम सात बजे तक जारी रहेगा।

सैतुल जिले में सबसे कम 32 उपचाराधीन मरीज हैं। मिजोरम में स्वस्थ होने वाले लोगों की दर और मृत्यु दर क्रमश: 81.69 प्रतिशत और 0.32 प्रतिशत है। टीकाकरण अधिकारी डॉ लालजावमी ने बताया कि बुधवार तक राज्य में 4.36 लाख लोगों ने कोविड-19 रोधी टीके की दोनों खुराक ले ली। स्वास्थ्य मंत्री आरटी लालथंगलियाना ने कहा कि राज्य के सभी जिलों में आरटी-पीसीआर जांच प्रयोगशालाएं बनायी जाएंगी।


आजाद सहित ‘G-23′ के कई नेताओं ने सिब्बल के घर पर ‘उपद्रव’ की निंदा की, कहा- वे एक वफादार…

NEXT STORY