देखरेख के अभाव में बर्बाद हो गया क्षेत्र का खूबसूरत क्रिकेट मैदान

कुंवर जावेद, विकासनगर

ढकरानी जल विद्युत गृह के पास बना क्रिकेट ग्राउंड रखरखाव के अभाव में पूरी तरह बर्बाद हो गया है। कभी खेल कूद की राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं की मेजबानी कर चुके इस मैदान की दुर्दशा पर क्षेत्र के पूर्व खिलाड़ी भी दुखी हैं। उनका कहना है क्षेत्र में खेल की गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए मैदान का जीर्णोद्धार किया जाना चाहिए।

वर्ष 1960 में डाकपत्थर से लेकर कुल्हाल तक जल विद्युत परियोजनाओं के निर्माण के दौरान ढकरानी जल विद्युत गृह के पास व परियोजनाओं को पानी की आपूर्ति देने के लिए बनी शक्तिनहर के किनारे पर एक खूबसूरत मैदान का निर्माण भी किया गया था। यह मैदान परियोजना में सेवारत कर्मचारी-अधिकारियों के बच्चों से लेकर क्षेत्र के खिलाड़ियों तक के लिए मुख्य आकर्षण का केंद्र रहा। क्षेत्र के यमुना वैली क्रिकेट क्लब वाइसीसी व ब्रदर्स क्रिकेट क्लब के अलावा फुटबाल के प्रसिद्ध विकास क्लब ने इस मैदान में स्थानीय स्तर से लेकर राज्य स्तर की क्रिकेट और फुटबाल की प्रतियोगिताओं का आयोजन वर्षो तक किया। इसके अतिरिक्त सरकारी और गैर सरकारी विद्यालयों में होने वाली वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिताओं का आयोजक रहने का श्रेय भी इसी मैदान को जाता रहा। पिछले कुछ वर्षो से रखरखाव के अभाव में मैदान दुर्दशा का शिकार हो गया। उधर, मैदान की दशा को ठीक करने के बजाए जलविद्युत निगम ने आधे मैदान में सोलर पैनल लगवाकर इसका प्रयोग बिजली उत्पादन के लिए कर लिया। वाइसीसी के पूर्व खिलाड़ी अनुपम कपिल, राजीव शर्मा, संजय गुप्ता, राजीव चुग, ब्रदर्स क्लब के सुमित नेगी, वालीबाल खिलाड़ी जीशान अली का कहना है विकासनगर क्षेत्र में खेलकूद को बढ़ावा देने के लिए इस प्रकार के मैदानों को ठीक किया जाना चाहिए। उनका कहना है मैदान की स्थिति खराब होने के चलते नए खिलाड़ियों को अभ्यास करने तक के लिए स्थान उपलब्ध नहीं हैं।

————-

ढकरानी खेल के मैदान की स्थिति में सुधार करना जल विद्युत निगम की प्राथमिकता में शामिल है। हालांकि बजट की कमी के कारण फिल्हाल ऐसी कोई कार्रवाई शुरू नहीं हो पा रही है। लेकिन निगम का प्रयास खेल मैदान को सुरक्षित करने का है जिस पर आने वाले समय में जरूर कदम उठाया जाएगा।

अभय सिंह, अधिशासी अभियंता जलविद्युत निगम सिविल विग।

—————

क्षेत्र के युवाओं की आवश्यकता को देखते हुए खेल के मैदान की दशा को सुधारना बहुत जरूरी है। इस संबंध में जलविद्युत निगम के अधिकारियों से बात करके आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। मुन्ना सिंह चौहान, विधायक विकासनगर।

Edited By: Jagran